अंजुमनउपहारकाव्य संगमगीतगौरव ग्राम गौरवग्रंथदोहे पुराने अंक संकलनअभिव्यक्ति कुण्डलियाहाइकुहास्य व्यंग्यक्षणिकाएँदिशांतर

पीपल मेरे द्वार का
 

 
(१)
बूढ़ा पीपल गाँव का, पूछे सबकी खैर।
छाया दे, विश्राम दे, नहीं किसी से बैर॥
नहीं किसी से बैर, गोद में सबही खेले,
इसकी बाँहें थाम, लगे सावन के मेले।
पंछी गाते गीत, भोर जगती आँखें मल,
पुरवाई के संग, झूमता बूढ़ा पीपल॥

(२)
छाया ही देते कटे, जिसके दिन औ' रात।
उस पीपल की आज क्यों, सुने न कोई बात॥
सुने न कोई बात, अश्रु पत्ती बन झरते,
पड़ा उपेक्षित, त्यक्त, कटें पल आहें भरते।
खग बैठे मुँह मोड़, बसंतों ने ठुकराया,
ताने देती नित्य, आज अपनी ही छाया॥

(३)
पीपल गुण की खान है, पावन इसका काम।
शुद्ध वायु दे साँस को, हमको आठों याम॥
हमको आठों याम, उपकृत करता रहता,
दे अमृत का दान, स्वयं हँस विष को सहता।
औषधि का भंडार, तोड़ दे रोगों का बल,
कुदरत का उपहार, कीमती है ये पीपल॥

(४)
चूरन पीपलछाल का, हरे दमा का कोप।
रस में भी शक्ति भरी, बिवाइयाँ हों लोप॥
बिवाइयाँ हों लोप, दर्द का मिट जाता डर,
दाद-खाज हो दूर, छाल का काढ़ा पीकर।
वृक्ष नहीं ये रत्न, स्वस्थ रखता है तन-मन,
तोड़ रोग-पाषाण, बना देता ये चूरन॥

(५)
बरसों की यादें लिए, जोड़े कल से आज।
पीपल मेरे द्वार का, देता नित आवाज॥
देता नित आवाज, प्यार से पास बिठाता,
है ये वो संबंध, हृदय से जिसका नाता।
करता बातें खूब, लगें जो कल-परसों की,
होतीं बीती जबकि, कथाएँ वो बरसों की॥

(६)
लूटा जमके वक्त ने, दे न सका पर मात।
हरे-भरे फिर से हुए, पीपल तेरे पात॥
पीपल तेरे पात, सिखाते हैं हमको भी,
सह जाना पुरुषार्थ दिखा हँसके गम को भी।
देख समय प्रतिकूल, न साहस जिनका टूटा,
जीवन का आनंद, उन्हीं ने जग में लूटा॥


-कुमार गौरव अजीतेन्दु
२६ मई २०
१४

इस रचना पर अपने विचार लिखें    दूसरों के विचार पढ़ें 

अंजुमनउपहारकाव्य चर्चाकाव्य संगमकिशोर कोनागौरव ग्राम गौरवग्रंथदोहेरचनाएँ भेजें
नई हवा पाठकनामा पुराने अंक संकलन हाइकु हास्य व्यंग्य क्षणिकाएँ दिशांतर समस्यापूर्ति

© सर्वाधिकार सुरक्षित
अनुभूति व्यक्तिगत अभिरुचि की अव्यवसायिक साहित्यिक पत्रिका है। इसमें प्रकाशित सभी रचनाओं के सर्वाधिकार संबंधित लेखकों अथवा प्रकाशकों के पास सुरक्षित हैं। लेखक अथवा प्रकाशक की लिखित स्वीकृति के बिना इनके किसी भी अंश के पुनर्प्रकाशन की अनुमति नहीं है। यह पत्रिका प्रत्येक सोमवार को परिवर्धित होती है

hit counter