अंजुमनउपहारकाव्य संगमगीतगौरव ग्राम गौरवग्रंथदोहे पुराने अंक संकलनअभिव्यक्ति कुण्डलियाहाइकुहास्य व्यंग्यक्षणिकाएँदिशांतर

Da^ gaaopala baabaU Samaa-


 

 

gaulaCro- ]D,ato jaa[yao        

jaao imalao ]llaU banaato jaa[yao
gaulaaoM ko BaI gaula iKlaato jaa[yao

Sama- kI caadr ]taroM foMk doM
KUba gaulaCro- ]D,ato jaa[yao

Saana sao caaMdI ka jaUta maar kr
kama saba Apnao banaato jaa[yao

garja hao tao baap gadho kao khoM
Anyaqaa AaMKoM idKato jaa[yao

JaaMikyao mat Kud igarobaaM maoM kBaI
gaOr pr AMgaulaI ]zato jaa[yao

baala bana kr isaf- ]McaI naak ko
caOna kI vaMSaI bajaato jaa[yao

idna nahIM baID,a ]zanao ko rho
SaaOk sao baID,a cabaato jaa[yao

 

 

इस रचना पर अपने विचार लिखें    दूसरों के विचार पढ़ें 

अंजुमनउपहारकाव्य चर्चाकाव्य संगमकिशोर कोनागौरव ग्राम गौरवग्रंथदोहेरचनाएँ भेजें
नई हवा पाठकनामा पुराने अंक संकलन हाइकु हास्य व्यंग्य क्षणिकाएँ दिशांतर समस्यापूर्ति

 सर्वाधिकार सुरक्षित
अनुभूति व्यक्तिगत अभिरुचि की अव्यवसायिक साहित्यिक पत्रिका है। इसमें प्रकाशित सभी रचनाओं के सर्वाधिकार संबंधित लेखकों अथवा प्रकाशकों के पास सुरक्षित हैं। लेखक अथवा प्रकाशक की लिखित स्वीकृति के बिना इनके किसी भी अंश के पुनर्प्रकाशन की अनुमति नहीं है। यह पत्रिका प्रत्येक सोमवार को परिवर्धित होती है

hit counter