अंजुमनउपहारकाव्य संगमगीतगौरव ग्रामगौरवग्रंथदोहे पुराने अंक संकलनअभिव्यक्तिकुण्डलियाहाइकुहास्य व्यंग्यक्षणिकाएँदिशांतर

हाइकु
 


अश्विन गांधी
अमिता कौंडल
 

आस्था
उर्मिला कौल
 
 
कमलेश भट्ट कमल
कुंअर बेचैन
 
गोविंद नारायण मिश्र
जीवन प्रकाश जोशी डॉ. झीणा भाई देसाई `स्नेह रश्मि'
 

नवलकिशोर बहुगुणा
नीरज शुक्ला
 

नागेश भोजने

पूर्णिमा वर्मन
 

प्रवीण शाह
 
भगवत शरण अग्रवाल
 
 
मनोज सोनकर
मोतीलाल जोतवाणी डॉ.
मीरा ठाकुर
रमाकांत श्रीवास्तव डॉ.
राज जैन
रामकृष्ण विकलेश
 
राजेन जयपुरिया
राजेन्द्र तिवारी
वेदज्ञ आर्य डॉ.
 
विकास परिहार

शैल रस्तोगी डॉ
 

श्यामू शास्त्री
 

सुधा गुप्ता डॉ.

हरे राम समीप
हेमंत रिछारिया
त्रिलोक सिंह ठकुरेला ज्ञानेन्द्रपति

होली हाइकु¸ फागुनी हाइकु कुछ हाइकु माँ के लिए
मौसमी हाइकु¸ वसंती हाइकु गुलमुहर हाइकु
वर्षा में मन ( हाइकु), वर्षा ( हाइकु),  पानी बरसा (१४ हाइकु),
उमस भरा सावन (
हाइकु), माँ ( हाइकु), वसंत के हाइकु
शरद महोत्सव

इस रचना पर अपने विचार लिखें    दूसरों के विचार पढ़ें 

अंजुमनउपहारकाव्य चर्चाकाव्य संगमकिशोर कोनागौरव ग्राम गौरवग्रंथदोहेरचनाएँ भेजें
नई हवा पाठकनामा पुराने अंक संकलन हाइकु हास्य व्यंग्य क्षणिकाएँ दिशांतर समस्यापूर्ति

© सर्वाधिकार सुरक्षित
अनुभूति व्यक्तिगत अभिरुचि की अव्यवसायिक साहित्यिक पत्रिका है। इसमें प्रकाशित सभी रचनाओं के सर्वाधिकार संबंधित लेखकों अथवा प्रकाशकों के पास सुरक्षित हैं। लेखक अथवा प्रकाशक की लिखित स्वीकृति के बिना इनके किसी भी अंश के पुनर्प्रकाशन की अनुमति नहीं है। यह पत्रिका प्रत्येक सोमवार को परिवर्धित होती है

hit counter