अंजुमनउपहारकाव्य संगमगीतगौरव ग्राम गौरवग्रंथदोहे पुराने अंक संकलनअभिव्यक्ति कुण्डलियाहाइकुहास्य व्यंग्यक्षणिकाएँदिशांतर

सुशील कुमार

जन्म- १९७८ में झारखण्ड के हजारीबाग में शहर में
शिक्षा- समाज सेवा में स्नातकोत्तर।

कार्यक्षेत्र-
वर्षों से सामाजिक क्षेत्र में सक्रिय रूप से कार्यरत। लम्बे समय तक एच.आई.वी. / एड्स जागरूकता के लिए उच्य जोखिम समूह (यौन कर्मियों, समलैंगिकों व ट्रकर्स) के साथ कार्य का अनुभव। साथ ही साथ जन सरोकार के मुद्दों के साथ सक्रियता से जुड़कर काम करते रहे हैं। कई सामाजिक, सरकारी एवं गैर-सरकारी संस्थाओं (जैसे नाको, यूनिसेफ, वी.वी.गिरी राष्ट्रीय श्रम संस्थान आदि) के साथ प्रशिक्षक, मूल्यांकनकर्ता व सलाहकार के रूप में जुड़ाव।

प्रकाशित कृतियाँ-
यत्र-तत्र रचनाओं के प्रकाशन के साथ-साथ, अपना ब्लाग संभावनाओं का शहर का प्रकाशन।

संप्रति-
दिल्ली स्थित एन. जी.ओ. कंसल्टेंसी कंपनी गोल्डेन थाट कंसल्टेंट्स प्राइवेट लिमिटेड के साथ चीफ कंसल्टेंट के रूप में कार्यरत।

ईमेल- goldenthoughtconsultants@gmail.com

 

अनुभूति में सुशील कुमार की रचनाएँ-

नयी रचनाओं में-
अनगढ़ पत्थर
गुंजाइशों का दूसरा नाम
रौशनदान
शहर में चाँदनी
हाँफ रही है पूँजी

छंदमुक्त में-
आसमानों को रँगने का हक
एक मौत ही साम्यवादी है
बदन पर सिंकती रोटियाँ
बुरका
भूख लत है


 

इस रचना पर अपने विचार लिखें    दूसरों के विचार पढ़ें 

अंजुमनउपहारकाव्य चर्चाकाव्य संगमकिशोर कोनागौरव ग्राम गौरवग्रंथदोहेरचनाएँ भेजें
नई हवा पाठकनामा पुराने अंक संकलन हाइकु हास्य व्यंग्य क्षणिकाएँ दिशांतर समस्यापूर्ति

© सर्वाधिकार सुरक्षित
अनुभूति व्यक्तिगत अभिरुचि की अव्यवसायिक साहित्यिक पत्रिका है। इसमें प्रकाशित सभी रचनाओं के सर्वाधिकार संबंधित लेखकों अथवा प्रकाशकों के पास सुरक्षित हैं। लेखक अथवा प्रकाशक की लिखित स्वीकृति के बिना इनके किसी भी अंश के पुनर्प्रकाशन की अनुमति नहीं है। यह पत्रिका प्रत्येक सोमवार को परिवर्धित होती है

hit counter