अंजुमनउपहार कविकाव्य चर्चाकाव्य संगमकिशोर कोनागौरव ग्राम
गौरवग्रंथ दोहेरचनाएँ भेजेंनई हवा पाठकनामा पुराने अंकसंकलन
हाइकु हास्य व्यंग्यक्षणिकाएँदिशांतरसमस्यापूर्ति

 


डॉ. अंजना संधीर

जन्म- 1 सितंबर 1960, रुढ़की, उत्तर प्रदेश।
शिक्षा- एम.ए., पीएच.डी., गुजरात यूनिवर्सिटी, अहमदाबाद।
लेखन व प्रकाशन- हिंदी, अंग्रेज़ी, उर्दू व गुजराती में लेखन व अनुवाद।
प्रकाशित कृतियाँ
ग़ज़ल संग्रह
- हिंदी में प्रकाशित ग़ज़ल संग्रह 'बारिशों का मौसम', 'धूप, छाँव और आँगन'
कविता
संग्रह- कविता संग्रह 'तुम मेरे पापा जैसे नहीं हो'।
शो ग्रंथ-
ीएचडी का शो ग्रंथ अंग्रेज़ी में प्रकाशित।
संपादन, लिप्यंतरण व अनुवाद - प्रवासी हस्ताक्षर- अमेरिका में स्थाई 22 हिंदी कवियों की कविता का संपादित काव्य संग्रह। 'इज़ाफ़ा' ग़ज़ल संग्रह का उर्दू से हिंदी में लिप्यंतरण व संपादन। 'यादों की परछाइयाँ' उर्दू से हिंदी में अनुवाद। अमेरिका से कश्मीर पर कविताओं का संपादित काव्य संग्रह 'ये कश्मीर है'। 'सात समुंदर पार से' संपादित कविता संग्रह जिसमें अमेरिका के 46 प्रतिनिधि कविओं की कविताएँ संकलित हैं। 'अमेरिका हड्डियों में जम जाता है' काव्य संग्रह का तेलुगु व पंजाबी में अनुवाद।

लर्न हिंदी एंड हिंदी सांग्स विद सीडी फ़िल्मी गीतों के माध्यम से विदेशी छात्रों को हिंदी सिखाने का अदभुत प्रयोग जो अपनी लोकप्रियता के कारण देश-विदेश में चर्चा का विषय बना।

 

अनुभूति में डॉ. अंजना संधीर की रचनाएँ-

कभी रुक कर ज़रूर देखना
चलो, फिर एक बार
ज़िंदगी अहसास का नाम है
हिमपात नहीं हिम का छिड़काव हुआ है

इस कविता पर अपने विचार लिखें    दूसरों के विचार पढ़ें 

अंजुमनउपहारकविकाव्य चर्चाकाव्य संगमकिशोर कोनागौरव ग्रामगौरवग्रंथदोहेरचनाएँ भेजें
नई हवा पाठकनामा पुराने अंक संकलनहाइकुहास्य व्यंग्यक्षणिकाएँ दिशांतरसमस्यापूर्ति

© सर्वाधिकार सुरक्षित
अनुभूति व्यक्तिगत अभिरुचि की अव्यवसायिक साहित्यिक पत्रिका है। इस में प्रकाशित सभी रचनाओं के सर्वाधिकार संबंधित लेखकों अथवा प्रकाशकों के पास सुरक्षित हैं। लेखक अथवा प्रकाशक की लिखित स्वीकृति के बिना इनके किसी भी अंश के पुनर्प्रकाशन की अनुमति नहीं है। यह पत्रिका प्रत्येक माह की 1–9 –16 तथा 24 तारीख को परिवर्धित होती है।