अंजुमन उपहार । कविकाव्य चर्चा काव्य संगम किशोर कोना गौरव ग्राम
गौरवग्रंथ
दोहे रचनाएँ भेजें नई हवा पाठकनामा पुराने अंक संकलन
हाइकु हास्य व्यंग्य क्षणिकाएँ दिशांतर समस्यापूर्ति

 


ismata itvaarI


janma : 25 isatMbar 1963 laKna}¸ ]<ar p`doSa.
iSaxaa : maasTr Aa^f fa[na AaTsa-³ema ,ef ,e´¸ vyavahairk klaa¸ dRSya klaa saMkaya¸ kaSaI ihMdU ivaSvaivaValaya¸ vaaraNasaI sao.
saMp`it : AQyaapna.
ÉicayaaM : ica~klaaAaoM ko saaqa–saaqa lailat klaaAaoM ko p`it jaIvana ka samap-Na¸ ]%kRYT saaih%ya saMklana evaM pazna va laoKna ko saaqa klaa ko p`it laalaaiyat baccaaoM ko ivakasa maoM saMlagna.

[-maola :
sukriti_chitrarth@yahoo.co.in 

 

AnauBaUit maoM ismata itvaarI kI 
rcanaaeM—

kivataAaoM maoM—
janma
inavaa-Na
ramarajya
ivasmaRit


 

इस कविता पर अपने विचार लिखें    दूसरों के विचार पढ़ें 

अंजुमन। उपहार। कविकाव्य चर्चा काव्य संगम किशोर कोना गौरव ग्राम गौरवग्रंथ दोहे रचनाएँ भेजें
नई हवा
पाठकनामा पुराने अंक संकलन हाइकु हास्य व्यंग्य क्षणिकाएँ दिशांतर समस्यापूर्ति

© सर्वाधिकार सुरक्षित
अनुभूति व्यक्तिगत अभिरुचि की अव्यवसायिक साहित्यिक पत्रिका है। इस में प्रकाशित सभी रचनाओं के सर्वाधिकार संबंधित लेखकों अथवा प्रकाशकों के पास सुरक्षित हैं। लेखक अथवा प्रकाशक की लिखित स्वीकृति के बिना इनके किसी भी अंश के पुनर्प्रकाशन की अनुमति नहीं है। यह पत्रिका प्रत्येक माह की 1–9 –16 तथा 24 तारीख को परिवर्धित होती है।