पत्र व्यवहार का पता

अभिव्यक्ति तुक-कोश

१. १२. २०२०     

अंजुमन उपहार काव्य संगम गीत गौरव ग्राम गौरवग्रंथ दोहे पुराने अंक संकलन अभिव्यक्ति
कुण्डलिया हाइकु अभिव्यक्ति हास्य व्यंग्य क्षणिकाएँ दिशांतर नवगीत की पाठशाला रचनाकारों से

है दिसंबर का महीना

 

 

है दिसंबर का महीना
.
शीत लहरी
हो गई स्वच्छंद, नदिया बहुत काँपी
थरथराती झील किसने बर्फ की चादर से ढाँपी
मन कबूतर दुबक कर बैठे घरों में, कोटरों में
राहतें उसको मिलीं जिसने कि
तन में अग्नि तापी
.
सुखद लगता
छाँट कोहरा सूर्य का नभ में निकलना
पढ़ रही हैं धूप किरणें हाथ में रक्खी सफ़ीना
है दिसंबर का महीना
.
कल चमक कर
सूर्य ने था शौर्य अपना भी दिखाया
तितलियों के पंख चमके पक्षियों ने सुख मनाया
उंगलियों में ऊष्मा भर कुछ नये सपने जगे थे
रात थक जो सूर्य सोया भोर जल्दी
उठ न पाया
.
आँख खोली
सामने थी बादलों की एक सेना
देख धरती को सका न बीच में पर्दा था झीना
है दिसंबर का महीना
.
- डा मंजु लता श्रीवास्तव
इस माह
सर्दी के मौसम का आनंद लेते हुए

गीतों में-

bullet

अनामिका सिंह अना

bullet

अनुराग तिवारी

bullet

अमित खरे

bullet

आभा खरे

bullet

आभा सक्सेना दूनवी

bullet

ऋता शेखर मधु

bullet

ओमप्रकाश नौटियाल

bullet

कल्पना मनोरमा

bullet

कल्पना रामानी

bullet

कृष्ण भारतीय

bullet

ज्योतिर्मयी पंत

bullet

धीरेन्द्र द्विवेदी

bullet

मंजुलता श्रीवास्तव

bullet

रमेश तैलंग

bullet

रामेश्वर प्रसाद सारस्वत

bullet

योगेन्द्रदत्त शर्मा

bullet

योगेन्द्र प्रताप मौर्य

bullet

शशि पाधा

bullet

सुरेन्द्रपाल वैद्य

bullet

त्रिलोचना कौर

छंदों में-

bullet

अनिल कुमार मिश्र

bullet

मंजु गुप्ता

bullet

शशि पुरवार

bullet

सीमा हरिशर्मा

bullet

सुबोध श्रीवास्तव

bullet

परमजीत कौर रीत

bullet

शरद तैलंग

bullet

शैलेन्द्र गुप्त वीर

अंजुमन में-

bullet

रंजना गुप्ता

bullet

रमा प्रवीर वर्मा

bullet

रामअवध विश्वकर्मा

छंदमुक्त में-

bullet

मधु संधु

bullet

सफदर हाशमी

अंजुमन उपहार काव्य संगम गीत गौरव ग्राम गौरवग्रंथ दोहे पुराने अंक संकलन हाइकु
अभिव्यक्ति हास्य व्यंग्य क्षणिकाएँ दिशांतर नवगीत की पाठशाला

© सर्वाधिकार सुरक्षित
अनुभूति व्यक्तिगत अभिरुचि की अव्यवसायिक साहित्यिक पत्रिका है। इस में प्रकाशित सभी रचनाओं के सर्वाधिकार संबंधित लेखकों अथवा प्रकाशकों के पास सुरक्षित हैं। लेखक अथवा प्रकाशक की लिखित स्वीकृति के बिना इनके किसी भी अंश के पुनर्प्रकाशन की अनुमति नहीं है।
Google
प्रकाशन : प्रवीण सक्सेना -- परियोजना निदेशन : अश्विन गांधी
संपादन¸ कलाशिल्प एवं परिवर्धन : पूर्णिमा वर्मन

सहयोग : कल्पना रामानी