अंजुमनउपहारकाव्य संगमगीतगौरव ग्राम गौरवग्रंथदोहे
पुराने अंकसंकलनहाइकुहास्य व्यंग्यक्षणिकाएँदिशांतर

ज्ञानप्रकाश विवेक

३० जनवरी १९४९ को बहादुरगढ़, हरियाणा में जन्म।

आठवें दशक के उत्तरार्ध में उभरे ज्ञानप्रकाश विवेक आधुनिक के लोकप्रिय व बहुचर्चित रचनाकारों में से हैं। हिंदी गजलों के क्षेत्र में उनका नाम दुष्यंत कुमार के साथ लिया जाता है। वे अच्छे कहानीकार भी हैं और भारतीय पत्र पत्रिकाओं में नियमित रूप से प्रकाशित होते रहते हैं।

प्रकाशित कृतियाँ-
कहानी संग्रह- अलग अलग दिशाएँ, शहर गवाह है, जोसफ़ चला गया, उसकी ज़मीन, पिताजी चुप रहते हैं, इक्कीस कहानियाँ, शिकारगाह, सेवानगर कहाँ है तथा मुसाफ़िरखाना।
गज़ल संग्रह- धूप के हस्ताक्षर, आँखों में आसमान तथा इस मुश्किल वक़्त में।
उपन्यास- गली नंबर तेरह, अस्तितत्व तथा दिल्ली दरवाज़ा।
कविता संग्रह- दीवार से झाँकती रोशनी
आलोचना- हिंदी ग़ज़ल की विकासयात्रा
पुरस्कार सम्मान- हरियाणा साहित्य अकादमी से तीन बार पुरस्कृत। राजस्थान पत्रिका द्वारा वर्ष ३००० में सर्वश्रेष्ठ कथा सम्मान।

ई मेल- aspl_rishi@hotmail.com

  अनुभूति में ज्ञानप्रकाश विवेक की
रचनाएँ -

अंजुमन-
ऐसे कर्फ्यू में
कच्ची मिट्टी से लगन
तमाम घर को
नहीं जहाज़ तो फिर

तेज़ बारिश
बात करता है
मेरी औकात
यहाँ लोगों की आपस में ठनी है
रस्ता इतना अच्छा था
रेत की बेचैन नदी

संकलन में-
धूप के पाँव - तेज़ धूप में

 

इस रचना पर अपने विचार लिखें    दूसरों के विचार पढ़ें 

अंजुमनउपहारकाव्य चर्चाकाव्य संगमकिशोर कोनागौरव ग्राम गौरवग्रंथदोहेरचनाएँ भेजें
नई हवा पाठकनामा पुराने अंक संकलन हाइकु हास्य व्यंग्य क्षणिकाएँ दिशांतर समस्यापूर्ति

© सर्वाधिकार सुरक्षित
अनुभूति व्यक्तिगत अभिरुचि की अव्यवसायिक साहित्यिक पत्रिका है। इसमें प्रकाशित सभी रचनाओं के सर्वाधिकार संबंधित लेखकों अथवा प्रकाशकों के पास सुरक्षित हैं। लेखक अथवा प्रकाशक की लिखित स्वीकृति के बिना इनके किसी भी अंश के पुनर्प्रकाशन की अनुमति नहीं है। यह पत्रिका प्रत्येक सोमवार को परिवर्धित होती है

hit counter