अंजुमन उपहार । कविकाव्य चर्चा काव्य संगम किशोर कोना गौरव ग्राम
गौरवग्रंथ
दोहे रचनाएँ भेजें नई हवा पाठकनामा पुराने अंक संकलन
हाइकु हास्य व्यंग्य क्षणिकाएँ दिशांतर समस्यापूर्ति

 


AnauBaUit maoM dIpk kpUr kI
rcanaaeM—

AnadoKI AnajaanaI laD,kI
ek Saama hu[- yaaoM QaIro sao
ijaMdgaI
doSa kI Saana hOM hma

  ek Saama hu[- yaaoM QaIro sao

haolao–haolao¸ tnaha–tnaha ek baat hu[- QaIro sao.
doKao–doKao¸ tuma BaI doKao¸ ek Saama hu[- yaaoM QaIro sao.
baOzo qao saUrja kI ikrnaaoM maoM¸ yaaoM rat hu[- jaao QaIro sao.
kalaI–kalaI¸ GanaGaaor GaTa¸ ek Saama Aa[- yaaoM QaIro sao.
kilayaaM jaao maurJaa[- saUrjamauKI kI¸ ek SauÉvaat hu[- yaaoM QaIro sao
hr trÔ hO caaMd isataro¸ ek Saama hu[- yaaoM QaIro sao
p`kRit kI Anamaaola saaOga,at¸ maulaak,at hu[- yaaoM QaIro sao
doKao–doKao¸ tuma BaI doKao¸ ek Saama Aa[- yaaoM QaIro sao.

24 ma[- 2005

 

इस कविता पर अपने विचार लिखें    दूसरों के विचार पढ़ें 

अंजुमन। उपहार। कविकाव्य चर्चा काव्य संगम किशोर कोना गौरव ग्राम गौरवग्रंथ दोहे रचनाएँ भेजें
नई हवा
पाठकनामा पुराने अंक संकलन हाइकु हास्य व्यंग्य क्षणिकाएँ दिशांतर समस्यापूर्ति

© सर्वाधिकार सुरक्षित
अनुभूति व्यक्तिगत अभिरुचि की अव्यवसायिक साहित्यिक पत्रिका है। इस में प्रकाशित सभी रचनाओं के सर्वाधिकार संबंधित लेखकों अथवा प्रकाशकों के पास सुरक्षित हैं। लेखक अथवा प्रकाशक की लिखित स्वीकृति के बिना इनके किसी भी अंश के पुनर्प्रकाशन की अनुमति नहीं है। यह पत्रिका प्रत्येक माह की 1–9 –16 तथा 24 तारीख को परिवर्धित होती है।