अंजुमन उपहार । कविकाव्य चर्चा काव्य संगम किशोर कोना गौरव ग्राम
गौरवग्रंथ
दोहे रचनाएँ भेजें नई हवा पाठकनामा पुराने अंक संकलन
हाइकु हास्य व्यंग्य क्षणिकाएँ दिशांतर समस्यापूर्ति

 


AnauBaUit maoM naUpur rGau kI
Anya kivataeM—

maihlaa idvasa ko Avasar pr
sabalaa

kivataAaoM maoM
AadSa-
nava
nava svaPna
maOM qaa p%qar
saavana
saaQanaa
saOinak
saOinak
saaota hO caunnaU

 

saaQanaa

maOM saaQak¸ tuma saaQanaa maorI¸
p%qar sao maUrt banaa dÐU¸ ibanaa dorI¸
maOMnao hI gaZ,I Kjaurahao maoM 
baaolatI p`itmaaeoM
jaba hao ga[- QaUla – QaUsairt 
maorI AiBalaaYaaeoM
elaaora kI gaufaAaoM maoM 
hu[- gaMujaayamaana AnakhI gaaqaaeoM
[namaoM AiBavya> kr dI¸ 
maOMnao saarI vyaqaayaoM¸
hr pID,a nao saRijat ikyao 
Amar–kavya AaOr rcanaaeoM¸
Aaja pUjatI ijanhoM saMskRit¸ 
maanakr ]nhoM p`acaIna p`qaaeoM
AaOr kr payaa maOM yao saba¸
@yaaoMik maOM saaQak¸ tuma saaQanaa maorI.

 

इस कविता पर अपने विचार लिखें    दूसरों के विचार पढ़ें 

अंजुमन। उपहार। कविकाव्य चर्चा काव्य संगम किशोर कोना गौरव ग्राम गौरवग्रंथ दोहे रचनाएँ भेजें
नई हवा
पाठकनामा पुराने अंक संकलन हाइकु हास्य व्यंग्य क्षणिकाएँ दिशांतर समस्यापूर्ति

© सर्वाधिकार सुरक्षित
अनुभूति व्यक्तिगत अभिरुचि की अव्यवसायिक साहित्यिक पत्रिका है। इस में प्रकाशित सभी रचनाओं के सर्वाधिकार संबंधित लेखकों अथवा प्रकाशकों के पास सुरक्षित हैं। लेखक अथवा प्रकाशक की लिखित स्वीकृति के बिना इनके किसी भी अंश के पुनर्प्रकाशन की अनुमति नहीं है। यह पत्रिका प्रत्येक माह की 1–9 –16 तथा 24 तारीख को परिवर्धित होती है।