अंजुमनउपहारकाव्य संगमगीतगौरव ग्राम गौरवग्रंथदोहे पुराने अंक संकलनअभिव्यक्ति कुण्डलियाहाइकुहास्य व्यंग्यक्षणिकाएँदिशांतर

AnauBaUit maoM ]pond` Qamaa-iQakarI kI kivataeMŚ

AaraQya maoro var do
dovastuit
ipta pu~ AaOr maR%yau SaOyyaa
baabaa
BaTkta rahI
maayaa tU

saMklana maoM 
ga`IYma gaujarat

]pond` Qama-aiQakarI ka pircaya
 
 

  ipta╩ pu~ AaOr maR%yau╣SaOyyaa

maR%yau SaOyyaa pr tD,pto pu~ kao doK
baaolao ipta ╣ jaIvana do fok.

baoTa╩ maOM Aigna dU^Mgaa torI icata
maa^M sao kh dU^Mgaa savaoro 
kr gayaa tU Alaivada.

svaga- mao mauJasao phlao╩ 
toro ilae jagah banaI
toro sa%kma- baD,o╩ 
tU [-Sa╣p`oma ka QanaI.

Aa^MKo maU^Mdo baoTa baaolaa ╣ 
 
kdmaaoM sao hI rahoM banaI
Aapko hI pqa pr hOM 
maorI Aa^KoM rhIM.

AapkI saovaa maoM 
]pisqat rhU^M maOM sada
yahI nahI Anya~ BaI╩
 ip`ya Aap mauJakao ipta.

 

इस रचना पर अपने विचार लिखें    दूसरों के विचार पढ़ें 

अंजुमनउपहारकाव्य चर्चाकाव्य संगमकिशोर कोनागौरव ग्राम गौरवग्रंथदोहेरचनाएँ भेजें
नई हवा पाठकनामा पुराने अंक संकलन हाइकु हास्य व्यंग्य क्षणिकाएँ दिशांतर समस्यापूर्ति

ę सर्वाधिकार सुरक्षित
अनुभूति व्यक्तिगत अभिरुचि की अव्यवसायिक साहित्यिक पत्रिका है। इसमें प्रकाशित सभी रचनाओं के सर्वाधिकार संबंधित लेखकों अथवा प्रकाशकों के पास सुरक्षित हैं। लेखक अथवा प्रकाशक की लिखित स्वीकृति के बिना इनके किसी भी अंश के पुनर्प्रकाशन की अनुमति नहीं है। यह पत्रिका प्रत्येक सोमवार को परिवर्धित होती है

hit counter