अंजुमनउपहारकाव्य संगमगीतगौरव ग्राम गौरवग्रंथ
दोहे पुराने अंकसंकलनहाइकुहास्य व्यंग्यक्षणिकाएँदिशांतर

अशोक अंजुम

अशोक अंजुम साहित्य जगत के बहुचर्चित व्यक्तित्वों में से एक हैं। हिन्दी की साहित्यिक पत्र-पत्रिकाओं और साहित्यिक मंचों के साथ-साथ रंगमंच के क्षेत्र में भी उनकी सक्रिय भागेदारी है।

प्रकाशित कृतियाँ-
गजल संग्रह- 'मेरी प्रिय ग़ज़लें', 'मुस्कानें हैं ऊपर-ऊपर', 'अशोक अंजुम की प्रतिनिधि ग़ज़लें', 'तुम्हारे लिये ग़ज़ल', 'जाल के अन्दर जाल मियाँ'
गीत संग्रह- एक नदी प्यासी
हास्य व्यंग्य- भानुमति का पिटारा', 'ख़ुल्लम ख़ुल्ला', 'दुग्गी चौके छ्क्के', अशोक अंजुम की हास्य-व्यंग्य कविताएँ'
दोहा संग्रह- प्रिया तुम्हारा गाँव
इसके अतिरिक्त पाँच ग़ज़ल संग्रहों, नौ हास्य-व्यंग्य संग्रहों, छ: दोहा संकलनों, दो लघुकथा संकलनों तथा दो गीत संकलनों का संपादन वे कर चुके हैं। 'प्रयास' साहित्यिक त्रैमासिकी का संपादन प्रकाशित करने के साथ वे संवेदना प्रकाशन के नाम से अपना प्रकाशनगृह भी चलाते हैं।

 

अनुभूति में अशोक अंजुम की रचनाएँ

नए दोहे-
घुटी घुटी सी कोठरी

दोहों में-
पानी नदिया प्यास

अंजुमन में-
आँसू
गोली की मेहरबानी
धमकियाँ हैं
वो मुझको आँख भरकर
सयानी बिटिया

इस रचना पर अपने विचार लिखें    दूसरों के विचार पढ़ें 

अंजुमनउपहारकाव्य चर्चाकाव्य संगमकिशोर कोनागौरव ग्राम गौरवग्रंथदोहेरचनाएँ भेजें
नई हवा पाठकनामा पुराने अंक संकलन हाइकु हास्य व्यंग्य क्षणिकाएँ दिशांतर समस्यापूर्ति

© सर्वाधिकार सुरक्षित
अनुभूति व्यक्तिगत अभिरुचि की अव्यवसायिक साहित्यिक पत्रिका है। इसमें प्रकाशित सभी रचनाओं के सर्वाधिकार संबंधित लेखकों अथवा प्रकाशकों के पास सुरक्षित हैं। लेखक अथवा प्रकाशक की लिखित स्वीकृति के बिना इनके किसी भी अंश के पुनर्प्रकाशन की अनुमति नहीं है। यह पत्रिका प्रत्येक सोमवार को परिवर्धित होती है

hit counter