अंजुमनउपहार काव्य संगम  गीतगौरव ग्राम गौरवग्रंथ
दोहेसंकलन हाइकु हास्य व्यंग्य क्षणिकाएँ दिशांतर

लक्ष्मी शंकर वाजपेयी

जन्मतिथि : १० जनवरी १९५५, सुजगवां (कानपुर)

शिक्षा : एम. एससी.(भौतिक विज्ञान)

प्रकाशन : ग़ज़ल के साथ-साथ हाइकु, लेख, व्यंग्य व बालसाहित्य की विधाओं में सृजन। गज़ल-संग्रह 'खुशबू तो बचा ली जाए' तथा 'बेज़ुबान दर्द' सहित तीन कृतियों का प्रकाशन। तमिल, पंजाबी, डोगरी, उर्दू, जापानी, अंग्रेज़ी आदि भाषाओं में कविताओं का अनुवाद। काव्यमंचों पर भी व्यापक स्तर पर भागीदारी। देश-विदेश की पत्र-पत्रिकाओं में रचनाओं का प्रकाशन। सौ से अधिक समारोहों और घटनाओं की कमेंट्री का प्रसारण। अनेक पत्र-पत्रिकाओं व संकलनों में अनेक विधाओं में रचनाएं प्रकाशित।

सम्मान : अनेक प्रतिष्ठित साहित्यिक, सामाजिक, सांस्कृतिक संस्थाओं द्वारा सम्मानित।

संप्रति : केंद्र निदेशक, आकाशवाणी नयी दिल्ली

 

अनुभूति में लक्ष्मी शंकर वाजपेयी की रचनाएँ

छंदमुक्त में-
अँधेरों के दिन
ढिठाई
रिश्तेदारी
विदाई

हाइकु में-
बारह हाइकु

अंजुमन में-
अपने ही हाथों में
आदमी के साथ
एक कमरे में
खूब नारे उछाले गए
चाँद पूनम का
टूटते लोगों को
दर्द से दामन
पगडंडियाँ बनाएँगे
भूली यादों
वो दर्द वो बदहाली
पूछा था रात
 

इस रचना पर अपने विचार लिखें    दूसरों के विचार पढ़ें 

अंजुमनउपहारकाव्य चर्चाकाव्य संगमकिशोर कोनागौरव ग्राम गौरवग्रंथदोहेरचनाएँ भेजें
नई हवा पाठकनामा पुराने अंक संकलन हाइकु हास्य व्यंग्य क्षणिकाएँ दिशांतर समस्यापूर्ति

© सर्वाधिकार सुरक्षित
अनुभूति व्यक्तिगत अभिरुचि की अव्यवसायिक साहित्यिक पत्रिका है। इसमें प्रकाशित सभी रचनाओं के सर्वाधिकार संबंधित लेखकों अथवा प्रकाशकों के पास सुरक्षित हैं। लेखक अथवा प्रकाशक की लिखित स्वीकृति के बिना इनके किसी भी अंश के पुनर्प्रकाशन की अनुमति नहीं है। यह पत्रिका प्रत्येक सोमवार को परिवर्धित होती है

hit counter